थारु राष्ट्रिय दैनिक
भाषा, संस्कृति ओ समाचारमूलक पत्रिका
[ थारु सम्बत २३ अगहन २६४६, शुक्कर ]
[ वि.सं २३ मंसिर २०७९, शुक्रबार ]
[ 09 Dec 2022, Friday ]

कोरोना भयवाह बनटा सर्तकता अपनाई

पहुरा | २३ कार्तिक २०७७, आईतवार
कोरोना भयवाह बनटा सर्तकता अपनाई

सुदूरपश्चिम प्रदेशमे कोरोना भाइरस संक्रमणके कारण अवस्था भयवाह बन्टी गैल, मने स्वास्थ्य सतर्कतामे लापारवाही बह्रटी गैल बा । यी प्रदेशमे कोरोना संक्रमित बृद्धिदर हुइलसंगे ज्यान गुमुइयनके संख्याफे दिनदिने बह्रटी गैल बाटै । कोरोना संक्रमण बृद्धिदर सबसे ढेर कैलालीमे बह्रटा, प्रदेश राजधानी हुइलक ओरसे हुई सेकठ, मने समुदाय स्तरमे कोरोना डेखल कारण चिन्ताके विषय बनल हो ।

जिल्ला प्रशासन कार्यालय कैलाली सभासम्मेलन, बैठक, भोज भटेर, भारी–भारी पार्टी कैना रोक लगैले बा । करही परलेसे २५ जानेसे ढेर सहभागी नइहुके स्वास्थ्य मापदण्ड अपनाके कैना कहल बा, मने अगुवाहुक्रे अपनही नियम मिच्टी बिना स्वास्थ्य मापदण्ड अपाइल कार्यक्रम जैना करल कारण पछिल्का समयमे सर्वसाधारण संग्गे नेताहुकनफे संक्रमित हुइल विल्गाइल बाटै ।

सुदूरपश्चिम प्रदेश सरकारके आन्तरिक मामिला मन्त्री तथा प्रवक्ता प्रकाशबहादुर शाहहे कुछ दिन आघे कोरोना डेखा परल । जिल्लामे उपचार सम्भव नइहुइलपाछे ठप उपचारके लाग शुकके रोज चिलगारीसे काठमाडौं लैजागिल बा । ओटरा केल नाही शुकके रोज कैलाली गौरीगंगा नगरपालिका वडा नम्बर ३ के वडाध्यक्ष नरेन्द्रबहादुर शाहके कोरोना संक्रमणसे मृत्यु हुइल बा । सेती प्रादेशिक अस्पतालके कोरोना अस्थायी अस्पतालमे उपचाररत वडाध्यक्ष शुकके सकारे ज्यान गैल रहे । कलेसे शनिच्चरफे कोरोना संक्रमणसे कैलालीके दुई जनहनके ज्यान गैल बा । टीकापुरके एक पुरुष ओ बर्दगोरियाके एक महिलाके कोरोना संक्रमणसे ज्यान गैल बा । डुनु जनहनके होम आईसोलेसनमे बैठल बेला मृत्यु हुइल हो । होम आईसोलेसनमे बैठल मनैनके कोरोना संक्रमणसे मृत्यु हुइ लागलपाछे समुदायमे त्रास फैलल् बा । समुदायस्तरमे फैलल् कोरोना संक्रमण रोकथामके लाग सरकारी निकाय प्रभावकारी भूमिका निर्वाह नाइ करल स्थानीयके गुनासो बा । शुकके रोज केल सुदूरपश्चिम प्रदेशमे ९२ जाने कोरोना भाइरसके संक्रमित ठप्लै । ओम्नेफे कैैलालीमे सबसे ढेर ७४, कञ्चनपुर १५, डोटी १, अछाम १ लौव संक्रमित ठप्लै । ओ शनिच्चरके रोज ४० जाने लौव संक्रमित ठपल बाटै ।

सुदूरपश्चिम प्रदेशके अस्थायी राजधानी धनगढीमे स्थापना करल कोभिड अस्थायी अस्पताल कोरोना संक्रमितसे भरल बा । सेती प्रादेशिक अस्पतालसे व्यवस्थापन करटी रहल ५० शैयाके अस्थायी अस्पतालमे शनिच्चर दुपहरसम ४९ जाने संक्रमित भर्ना हुइल बाटै । कोरोना संक्रमण बृद्धि संगे मृत्यूदरफे बह्रल कारण यहाँक स्वास्थ्य उपचार गुणस्तरीय बनैना जरुरी बा ।

जनाअवजको टिप्पणीहरू