थारु राष्ट्रिय दैनिक
भाषा, संस्कृति ओ समाचारमूलक पत्रिका
[ थारु सम्बत २३ अगहन २६४६, शुक्कर ]
[ वि.सं २३ मंसिर २०७९, शुक्रबार ]
[ 09 Dec 2022, Friday ]

भजनीके बाढपीडित फेरसे विस्थापित

पहुरा | २७ श्रावण २०७७, मंगलवार
भजनीके बाढपीडित फेरसे विस्थापित

पहुरा समाचारदाता
टीकापुर, २७ सावन ।
कैलालीके भजनीके बाढपीडित परिवार फेरसे विस्थापित हुइल बाटै । शनिच्चर रातसे निरन्तर वर्षा हुइलपाछे भजनीमे फेरसे बाढ आके भजनी–८ के ११७ परिवार विस्थापित हुइल बाटै ।

घर गैल ३ तीनमे फेरसे विस्थापित हुइ परल बाढपीडितके गुनासो रहल बा । वर्षासे भजनी–८ खल्लाटोल सोनाहफाँटाके ४०, डाढाढिकुवाके ५२ ओ कृष्णनगरके २५ परिवार घर छोरले बाटै । विस्थापित परिवार पथरैया लडिायके पुलउपर पाल टाँगके बैठे लागल स्थानीयवासी जयप्रसाद ढुंगाना जानकारी डेलै । ‘बाढ बस्तीमे पैंठ सेकल बा, पानी रुक्ना छाँटकाँट नाइहो,’ उहाँ कहलै, ‘त्रासमे रहल पीडित घर छोरे लागल बाटै ।’

ओहकान अनुसार बस्ती जलमग्न हुइल बा । पथरैया, काढा ओ कान्द्रा लडियामे पानी बस्ती पैठ्ना जोखिम बह्रल बा । पीडित धनकला विकके परिवार एक अँठ्वारसे पथरैया पुलके बासपाछे तीन दिनआघे पानी सुकलपाछे घर आइल रहिट । विकके परिवार भट्कल घर मर्मतके तयारी करट रही मने सोम्मार सकारे गैयाभैंस ओ बालबच्चासहित पुनः सडकमे आइल बाटै ।

‘अन्नपात कुछ बाँकी नाइहो, लत्ताकपडा सक्कु पुहगैल,’ विक कहलै, ‘ज्यालादारी कैके हुइलेसे फेन पेट पालब सोच्ले रही मने घरमे बैठे नाइ पैना हुइल ।’ उहाँ बाढसे भजनीमे उठिबास कराइलपाछे ढिउर चिन्ता बह्रल बटैलै । ‘भोक मेटे नाइ पाइलपाछे मनैनके दिमाग काम करठ का ?’ विक गुनासो करली, ‘सरकार बा आइठ्, सरकार फेन का करे, चिउरा, चाउचाउ डेले बा । काल्ह एक कट्टा चामल डेले रहे, आज उहे लेके पुलमे अइली ।’

भजनीमे यिहे साउन १४ गते आइल बाढसे एक हजार ६७१ परिवार विस्थापित हुइल रहिट । उहाँ पुनः विस्थापित हुइ पर्ना अवस्था आइल भजनी नगरपालिकाके प्रमुख शेरबहादुर चौधरी बटैलै । ‘नगरपालिकासे बाढ रोके सेक्ना अवस्था नाइहो मने उद्धारमे खटल बाटी,’ उहाँ कहलै, ‘कोइ भुखे नमरे कहिके राहतके कार्यसमेत जारी रख्ले बाटी । हमार उद्देश्य पीडामे सरकार साथमे बा कना हो ।’

तटीयवासीहे सतर्क रहना आग्रह मौसम विज्ञान विभागसे वर्षा आभिन जारी रहना हुइल ओरसे तटीय क्षेत्रके नागरिकहे सुरक्षित स्थानमे बैठ्ना सूचनासमेत करले बा । विभागसे चिसापानी, टीकापुर, भजनी क्षेत्रके छोटबर लडियाके पानीके बहाव बह्रे सेक्ना चेतावनीसहितके सूचना डेले बा ।

कर्णाली लडियामे पानीके सतह बह्रलपाछे तटीय क्षेत्रमे त्रास शुरु हुइल बा । वर्षा निरन्तर हुइलपाछे तटीय क्षेत्रके नागरिकमे त्रास शुरु हुइल हो । कर्णाली लडियामे सकारे ६ः३० बजेसमके रेकर्डअनुसार पानीके सतह नौ मिटर सात सेन्टिमिटर पुगल रहे ।

कर्णाली चिसापानीक गेजरिर्डर पार्वती गुरुङके अनुसार कर्णालीके ठूलीगाड, सेती ओ भेरी लडियामे पानी बह्रटी रहल ओरसे आभिन पानीके सहत बह्रे सेक्ना जोखिम रहल उहाँ बटैली । पहाडओर भारी वर्षा हुइल ओ लडियामे पानीके सतह बह्रटी रहल ओरसे तटीय क्षेत्रमे बसोबास करटी रहल नागरिकहे सतर्क रहना आग्रह करल हो ।

लडियामे पानीके बहाव बह्रलपाछे नेपाल रेडक्रस सोसाइटी टीकापुर, भजनी नगरपालिका नागरिकहे सुरक्षित स्थानमे सर्ना आग्रह करले बावै । चिसापानीमे कर्णाली लडियाके सतह नौ मिटर पुग्लेसे सतर्क, १० मिटर पुग्लेसे पूर्वतयारी ओ ११ मिटर पुग्लेसे तटीय क्षेत्रके लाग खतरा मानजाइठ् ।

जनाअवजको टिप्पणीहरू