थारु राष्ट्रिय दैनिक
भाषा, संस्कृति ओ समाचारमूलक पत्रिका
[ थारु सम्बत २२ अगहन २६४६, बिफे ]
[ वि.सं २२ मंसिर २०७९, बिहीबार ]
[ 08 Dec 2022, Thursday ]
‘ भजनीमे आधा महिनापाछे पुुगल मुुख्यमन्त्रीके अमूर्त बाचा ’

स्थानीयहुकनके माग : सुरक्षित बास ओ वैकल्पिक खेती

पहुरा | ३० श्रावण २०७७, शुक्रबार
स्थानीयहुकनके माग : सुरक्षित बास ओ वैकल्पिक खेती

पहुरा समाचारदाता
धनगढी, ३० सावन ।
बाढके कारण धनजनसहित बरवार क्षति भोगसेकल आधा महिनापाछे सुदूरपश्चिम प्रदेशके मुख्यमन्त्री त्रिलोचन भट्ट प्रभावित क्षेत्रमे पुगल रहिट ।

गैल सावन १४ आइल बाढमे परके भजनी नगरपालिका ८ के ३ जाने ज्यान गुमाइल रहिट । कलेसे भजनी नगरपालिका, जोशीपुर गाउँपालिका, टीकापुर नगरपालिकालगायत स्थानीय तह करके करिब २ हजारसे ढिउर घर प्रभावित हुइल बाटै । उहाँहुकनके विचल्ली हुइल बा । मने मुख्यमन्त्री भट्ट भजनी नगरपालिका घर रहल भूमी व्यवस्था कृषि तथा सहकारी मन्त्री विनिता चौधरी ओ कुछ प्रदेश सभा सदस्यहुुन संगे लेके शुकके रोज प्रभावित क्षेत्रके अनुगमन कर्ले बाटै ।

अनगुमन टोली संगे रहल पूर्व सभासद हरिश्रीपाइलीके अनुसार उ टोली भजनी नगरपालिका वडा नंं ३, ५ ओ ८ मे स्थलगत अनुगमन करल रहिट । उ क्रममे उहाँ अल्पकालीन ओ दीर्घकालीन योजना बनाके समस्या समाधान कर्ना आश्वासन डेके आइल बाटै ।

बाढ प्रभावित क्षेत्रके लगत संकलन प्रदेश सरकारसे हुइना बटागिल बा । हुलाकी सडकके डिजाइन ओ रानीजमरा कुलरिया सिँचाइ आयोजनाके कारण समेत डुवान हुइटी रहल कहटी मुख्यमन्त्री भट्टसमस्या समाधानके लाग रानीजमरा कुलरिया सिँचाइ आयोजनासे फेन सहयोग करे पर्ना वात राखल पूर्व सभासद श्रीपाइली बटैलै ।

ओस्टके मुख्यमन्त्री भट्टके प्रतिवद्धताहे उदृत करटी उहाँ कहलै बाढसे भत्कल हुलाकी राजमार्गके तत्काल मर्मत सम्भार हुइना, बाढसे ज्यान गुमाइल व्यक्तिहुकनके परिवारजनहुुकन क्षतिपूर्ति, किसानहुुुकन कृषि मल उपलब्ध करैना आश्वासन डेके आइल बाटै ।

मने स्थानीयबासीहुक्रे मुख्यमन्त्री भट्टके स्थलगत अनुगमन हतारमे हुइल ओ अप्नेहुकन मजासे पीडा पोख्न समय फेन नैडेहल गुनासो राख्ले बाटै ।

फाइल फाेटु

भजनी नगरपालिका ३ मोहनपुरके स्थानीय गंगा चौधरी मुख्यमन्त्रीके निरिक्षण बरा हतार ओ औपचारिकता पूरा कर्नामे सीमित हुइल बटैलै ।

उहाँ कहलै–‘उहाँहुक्रे प्रभावित क्षेत्रमे बिना पुग्ले बीच डगर मन्से लौट्ना हस करटाहै, मने स्थानीय जनप्रतिनिधीहुकनके दबाबसे किल आइल रहिट । मने अमुर्त बाचा करके किल गैल बाटै । पूरा हुइना हस नैलागठ ।’

सरकारसे अप्नेहुकनके प्रमुख माग सुरक्षित बासस्थानके व्यवस्था करेक पर्ना ओ तत्काल वैकल्पिक खेती प्रणालीके व्यवस्था करेक पर्ना रहल उहाँ बटैलै । प्रत्येक साल अइना बाढसे हैरान होसेकल बटैटी उहाँ आब अप्नेहुकनके सुरक्षित बासके व्यवस्था सरकारसे करेक पर्ना बटाइल हुइट । ओस्टके लगाइल धान ओ घरमे भण्डारण करल अन्न सब बाढ पुहाइल अवस्थामे राहतके २० किलो चाउरसे समसयाके समाधान नैहुइना हुइलओरसे तत्काल वैकल्पिक खेती नैकर्लेसे भोकमरी हुइना समस्या रहल औल्याइटी तत्काल वैकल्पिक खेती प्रणालीके व्यवस्था करेक पर्ना माग रहल बटैलै ।

स्थानीयहुक्रे रानीजमरा सिँचाई आयोजना अन्तरगत पथरैया ओ मोहना लडियामे एक तर्फी तटबन्ध बनाइलओरसे भजनी क्षेत्र डुबान ओ कटानमे परल बटैले बाटै । जेकरलाग उ लडियाक् पश्चिम पाँजर ओहोर तटबन्ध ओ उ क्षेत्रके सक्कु लडियाक् गहिराई ओ चौडाई बह्राइक पर्ना जरुरी रहल बटैले बाटै । संगे जलीय चलचर नीति कार्यान्वयन करके नदीजन्य पदार्थ उत्खनन्मे कडाइ करेक पर्ना स्थानीय हुकनके माग बा ।

हुुलाकी रोडके उचाई वस्तीसे बहुट उच हुइल ओरसे वस्तीहे हेरके बनाइक पर्ना स्थानीयहुकनके माग बा ।

सम्बन्धित समाचार

बाढ प्रभावित क्षेत्रके दीर्घकालिन योजना बनाके समस्या समाधान कैना: मुख्यमन्त्री भट्ट

जनाअवजको टिप्पणीहरू