थारु राष्ट्रिय दैनिक
भाषा, संस्कृति ओ समाचारमूलक पत्रिका
[ थारु सम्बत १३ अगहन २६४६, मंगर ]
[ वि.सं १३ मंसिर २०७९, मंगलवार ]
[ 29 Nov 2022, Tuesday ]

ऐनके विरोधमे पत्रकार आन्दोलित, सभामुखहे ज्ञापन

पहुरा | ३२ श्रावण २०७७, आईतवार
ऐनके विरोधमे पत्रकार आन्दोलित, सभामुखहे ज्ञापन

पहुरा समाचारदाता
धनगढी, ३२ सावन ।
सुदूरपशिचम प्रदेश सभासे हाले पारित हुइल एफएम, रेडियोे तथा टेलिभिजन प्रशारण सम्बन्धी ऐन संशोधन करेक माग करटी सुदूरपश्चिमके पत्रकारहुक्रे आन्दोलित हुइल बाटै ।

नेपाल पत्रकार महासंघ सुदूरपश्चिम प्रदेश समितिके नेतृत्वमे यहाँके पत्रकारहुक्रे आन्दोलित हुइल हुइट । प्रदेश सरकारसे प्रदेश सभामे सञ्चार सम्बन्धी विधेयक दर्ता करल बेलासे नेपाल पत्रकार महासंघ विधेयकमे रहल कुछ प्रावधान संविधानके मर्म विपरित तथा प्रेस स्वतन्त्रताउप्पर अंकुश लगैना उदेश्यसे नानल कहटी सच्याउन पर्ना माग राख्टी आइल रहे ।

विधेयक पारित होसेकलपाछे फेन अप्नेहुकन अमान्य रहल कहटी यहाँके पत्रकार आन्दोलित हुइल हुइट । पारित हुुइल विधेयक सञ्चार माध्यमके प्रवद्र्धन कर्नासे फेन दुःख डेना नियतसे नानल उहाँके पत्रकारहुुनके ठम्याई बा ।

नेपाल पत्रकार महासंघके पूर्व केन्द्रीय सदस्य मनमोहन स्वाँर हाले पारित हुइल विधेयक सञ्चार माध्यमके हितसे फेन दुःख डेना उदेश्यसे नानलओरसे स्वीकार्य नैरहल बटैलै ।

यहेबीच पत्रकार महासंघ अट्वारके रोज सुदूरपश्चिम पदेशके सभामुख अर्जुनबहादुर थापा, प्रतिपक्षी दल नेपाली काँग्रेसके नेता रणबहादुर रावल, जनता समाजवादी पार्टीके मालामति राना, सत्तापक्षीय प्रमुख सचेतक तारा लामा तामाङ ओ विधायन तथा प्रदेश मामिला समितिके सभापति नेपालु चौधरीहे फेन ज्ञापनपत्र बुझैले बाटै ।

ऐनमे रहल कुछ दफामे गम्भीर आपत्ति जनागिल बा । उ ऐनमे रहल स्रोतसे आइल खबर पुष्टि करके किल प्रशारण कर्ना कना वाक्यांश स्वतन्त्रतापूर्वक लेखे पैना अधिकारउप्पर प्रश्न उठाइलओरसे उ दफा हटाइक पर्ना माग करगिल हो ।

नेपाल पत्रकार महासंघ सुदूरपश्चिम प्रदेश समितिके अध्यक्ष अर्जुन शाह पारित विधेयक प्रेस स्वतन्त्रता विरुद्ध रहल बटैलै । दर्ता हुइल बेलासे विधेयक सच्याइक पर्ना माग करटी आइल ओ हाल हाल लकडाउनके मौका छोपके सभासे पारित हुइल अध्यक्ष शाह बटैलै । जेकर संशोधनके लाग आन्दोलनमे उत्रल उहाँके कहाइ बा ।

ज्ञापनपत्र बुझ्टी सभामुख थापा पत्रकार महासंघसे उठाइल विषयबस्तु सही रहलेसे फेन विधेयक पारित हुइनासे पहिले छलफल हुइलेसे अप्ने भूमिका खेले सेक्ना अवस्था रहना बटैलै । उहाँ विधेयक पारित होसेकलओरसे आबके डगर कलेक संशोधन किल रहल बटैलै ।

विधेयक संशोधन नैहुइटसम आन्दोलन जारी राख्न पत्रकार महासंघ सुदूरपश्चिम प्रदेश समिति जनैले बा ।

जनाअवजको टिप्पणीहरू