थारु राष्ट्रिय दैनिक
भाषा, संस्कृति ओ समाचारमूलक पत्रिका
[ थारु सम्बत २८ सावन २६४६, शनिच्चर ]
[ वि.सं २८ श्रावण २०७९, शनिबार ]
[ 13 Aug 2022, Saturday ]

निषेधाज्ञा फोंफर हुइलपाछे सरकारी कार्यालयमे भिरभार

पहुरा | २४ भाद्र २०७७, बुधबार
निषेधाज्ञा फोंफर हुइलपाछे सरकारी कार्यालयमे भिरभार

पहुरा समाचारदाता
धनगढी, २४ भदौ ।
विषेधाज्ञा फोंफर हुइल संगे कैलालीके विषयगत कार्यालयमे भिरभार बह्रल बा ।

जिल्लाके यातायात, विद्युत, आन्तरिक राजस्व लगायतके कार्यालयमे भिरभार बह्रल हो । जिल्ला प्रशासन कार्यालय मालपोत ओ नापी वाहेकके कार्यालयमे सेवा सुचारु कर्ना निर्देशन डेहल संगे कार्यालयमे भिरभार बह्रल हो । नेपाल विद्युत् प्राधिकरण वितरण केन्द्र धनगढीमे बिहान्नीसे विद्युतके महसुल बुझैना मनैन्के भिरभार होजाइठ । यहाँसमकी टै आघे कि मै आघे करे लग्ठै महसुल बुझुइया सेवाग्राही ।

विश्व स्वास्थ्य संगठनके अनुसार न्यूनतम सामाजिक दूरी १ मिटर मापदण्ड कायम कर्ले बा । मने उहाँ कौनो मापदण्डके मतलब नैहो ।

धनगढी उपमहानगरपालिका–५ तारानगरके रिना चौधरी करिब ६ महिनाके बिल भुक्तानी करे अट्वारके रोज बिहन्नी गैल रही । विद्युत कार्यालयसे लाईन् काट्न डरसे उहाँ कोरोनाके कहरबीच पैसा बुझाइ विद्युत कार्यालय पुगल हुइटी । उहाँ कहली् ‘भिरभार कम हुई कहिके विहन्नी अइनु, यहाँ टे मै अइनासे पहिलेही लाइन लागगिल रहै । चैतसे याहोरके पैसा बुझैना बाँकी रहे, लाइन काट्डिही कि का कहिके पैसा बुझाइ आइल बाटु ।’

सरकारसे करल लकडाउनके कारण ६ महिनाके पैसा बुझैना हुइलओरसे उहाँ कोरोनाके प्रवाह नैकरके अइल सुनैली ।

धनगढी विशालनगरके प्रकाश विष्ट सोम्मारके रोज विद्युतके महसुल बुझाई लाइन लागल रहिट । उहाँ फेन लम्मा समयसम बत्तीक् बिल नैटिरलओरसे विद्युत कार्यालय लाइन काटडि कि का कहिके डराराइल रहै ।

उहाँ कहलै, ‘प्रशासनसे निषेधाज्ञा कहठ, विद्युत कार्यालय बिल टिरे बलाइठ, डगरामे पुलिस सटैठै ।’
जरिवाना पर्न पीरमे विद्युतके बिल टिरेक लाग गेटासे धनगढी आइल डम्बर चटौत फेन लाईन लागल रहै ।

खाना बिना खैले घरसे निक्रल चटौतहे कोरोनाके डर खासे नैरहे । उहाँ प्रश्न करटी कहलै, ‘खै कहाँ बा कोरोना ? कहिहे लागठ कोरोना ।’ कहटी उहाँ कोरोना भ्रम किल रहल ओ कोरोनासे किहुहे असर नैकर्ना कर्नामे विश्वस्त रहिट ।

ओस्टके, धनगढीके सक्कु बैंकमे फेन सेवाग्राहीहुकनके भिरभार बा । बैंकमे अधिकांश किस्ता तिर्न मनैनके लाइन लग्टी आइल बा । धनगढीके कुमारी बैंकमे किस्ता टिरे लाइनमे बैठल गणेश जोशी समयमे किस्ता नैटिरलेसे, जरिवान टिरेक परठ, १४ दिनसम निषेधाज्ञा हुइल, आज बल्टल अइनु टे लाइन लागे परल ।

जिल्ला प्रशासन कार्यालय कैलाली भदौ ४ गतेसे १९ गतेसम जिल्लाभर पुर्ण रुपमे निषेधाज्ञा जारी करल रहे । अट्वारके रोज भर प्रशासनसे निषेधाज्ञामे कुछ फोफर पर्ले बा । निषेधाज्ञा फोफर हुइल संगे धनगढीमे भिरभार एकफाले बह्रल बा ।

निषेधाज्ञाके समयमे विद्युत् कार्यालयसे जरिवाना कर्र्ना, बैंक वित्तीय संस्थासे ब्याज बह्रैना, यातायात, राजस्व कार्यालयसे कर तिर्न म्याद नैथप्न, सरकारी कार्यालयके काम नियमित रुपमे सञ्चालन नैहुइलपाछे सर्वसाधारणहुक्रे दुःख पैटी आइल बाटै ।

डोसरओहोर धनगढीमे कोरोना भाईरस (कोभिड–१९) के महामारीके संक्रमण दर डरलग्टिक मेरके बह्रटी गैल बा ।

मने बिद्युत प्राधिकरण वितरण केन्द्र धनगढीके प्रमुख सुरेन्द्र चौधरी समयमे बिल नैटिर्लेसे जारिवाना लाग्न स्वाभाविक रहल बटैलै ।

उहाँ लम्मा समय लकडाउन ओ निषेधाज्ञापाछे हुइल खुकुलो हुइलओरसे भिरभार हुइल बटैलै ।

जिल्ला प्रशासन कार्यालयके सूचना अधिकारी शिवराज जोशी प्रशासनहे डेहल अधिकार प्रयोग करके निषेधाज्ञा जारी करल दाबी कर्लै । जोशी सक्कु सरकारी कार्यालय, वित्तीय संस्था लगायतके कार्यालयसे समन्वय करे नैसेकल स्वीकार कर्लै । ‘निषेधाज्ञाके कारण भिडभाड् बह्रल कहे नैमिली, नियम पालना कर्ना सक्कुहनके दायित्व हो, प्रशासन एक्केल्ही कुछ करे नैसेकी ।’

जनाअवजको टिप्पणीहरू