थारु राष्ट्रिय दैनिक
भाषा, संस्कृति ओ समाचारमूलक पत्रिका
[ थारु सम्बत २१ अगहन २६४६, बुध ]
[ वि.सं २१ मंसिर २०७९, बुधबार ]
[ 07 Dec 2022, Wednesday ]

संविधान दिवसः कहु डेवारी, कहु जरागिल संविधान

पहुरा | ३ आश्विन २०७७, शनिबार
संविधान दिवसः कहु डेवारी, कहु जरागिल संविधान

पहुरा समाचारदाता
धनगढी, ३ कुवाँर ।
कुवाँर ३ गते नेपालके संविधान २०७२ जारी हुइल दिन हो । जौन दिनहे देशके टमान ठाउँमे अप्ने अप्ने ढंगसे मनागिल बा ।

कहु खुशयालीके रुपमे डिया बारके तथा दिपवाली करके मनागिल बा । कलेसे कहु संविधानके विरोधमे करिया दिनके रुपमे मनागिल हो । खासकैके संविधानमे अप्नेहुकनके माग मुद्दा नैसमेटगिल कहिके थारु, मधेशी, जनजातिलगायत समुदाय देशके टमान ठाउँमे संविधानके विरोध तथा संविधान संशोसनके माग करके करिया दिनके रुपमे मनाइल हुइट ।

यहेबीच कैलालीके बलिया ओ धनगढीमे संविधान जरागिल बा । अप्नेहुकनके माग ओ मुद्दा नेपालके संविधान २०७२ मे नैसमेटल कहटी असन्तुष्ट पक्षहुक्रे संविधान दिवसहे करिया दिनके रुपमे मनैटी संविधानके टमान धारा जराइल हुइट ।

थरुहट/थारुवान राष्ट्रिय मोर्चाके नेतृत्वमे कैलालीके लम्कीसे बलियासम संविधानके विरोधमे प्रर्दशन कर्नाके साथे आयोजित कोणसभामे संविधानके टमान धारा जरागिल बा । मोर्चाके केन्द्रीय सल्लाहकार कृष्णकुमार चौधरी नेपालके संविधान अपूरो ओ विभेदकारी रहल बटैटी संशोधन नैहुइटसम अस्टहिके जरैटी रहना चेतावनी डेलै ।

कोण सभाहे सम्बोधन करटी उहाँ कहलै, ‘संविधान दिवस मनैना हमार फेन रहर रहे । मने विडम्वना करिया दिनके रुपमे मनाइक पर्ना अवस्था बा । जराइक पर्ना अवस्था बा । संविधान संशोधन नैहुइटसम यि विभेदकारी संविधान जरैटी रहब ।’

कोणसभाहे सम्बोधन करटी वक्ताहुक्रे संविधान संशोधन करके थारु, मधेशी, मुस्लिमलगायत पाछे पारल समुदायके माग सम्बोधन करेक पर्र्ना, टीकापुर राजबन्दीहुकन रिहा करेक पर्र्नालगायत माग राखल रहिट ।

मोर्चाके कैलाली क्षेत्र नं. २ के संयोजक मानबहादुर चौधरीके घरगोसियाइमे हुइल कार्यक्रममे मोर्चाके जिल्ला सदस्य देशराज चौधरी, जनता समाजवादी पार्टीके नेता मीन चलाउने, दलबहादुर बुचामगर, गणेश पाण्डेलगायत बोलल रहिट ।

ओस्टके जनता समाजवादी पार्टीके नेतृत्वमे धनगढीके गुरही चोकमे फेन प्रदर्शन करगिल रहे । प्रदर्शनकारीहुक्रे संविधानके टमान धारा जराइल रहिट । आयोजित कोणसभामे जनता समाजवादी पार्टीके केन्द्रीय सदस्य फोनीराम चौधरी, प्रदेश सभा सदस्य मालामति राना, जनता समाजवादी पार्टीके नेता मीनराज बडु, गयाप्रसाद कुश्मीलगायत बोलल रहिट ।

यहेबीच सुदूरपश्चिम प्रदेश सरकार संविधान दिवसके अवसरमे शुभकामना सन्देश व्यक्त कर्ले बा ।

यहेक्रममे सुदूरपश्चिम प्रदेशके सभामुख अर्जुनवहादुर थापा सविंधान कार्यान्वयमे जोड डेहक पर्ना अवश्यक रहल बटाइल रहिट । दिवसके अवसरमे प्रदेश सभा सचिवालयमे आयोजित कार्यक्रममे सभामुख थापा २०७२ सालके संविधान उत्कृष्ट रहल दाबी कर्लै ।

‘२० हजारसे ढिउरजहनके बलिदानीसे मुलुक उत्कृष्ट संविधान पैले बा,’ उहाँ कहलै, ‘यकर कार्यान्वयमे ध्यान जाइक पर्ना जरुरी बा ।’

सभामुख थापा सविंधानमे सक्कु नेपालीहुकनके अधिकार सुनिश्चित करल जिकिर कर्लै ।

प्रदेश सभामे आयोजना करल कार्यक्रममे सभामुख थापा सहित उपसभामुख निर्मला बडाल जोशी, नेकपाके प्रमुख सचेतक तारालामा तामाङ, सचेतक अक्कल रावल, नेपाली काँग्रेसके सचेतक टेकबहादुर रैका, अर्थ विकास तथा प्राकृतिक स्रोत समितिके सभापति गोबिन्द कुँवरके उपस्थिति रहल रहे ।

जनाअवजको टिप्पणीहरू