थारु राष्ट्रिय दैनिक
भाषा, संस्कृति ओ समाचारमूलक पत्रिका
[ थारु सम्बत २२ अगहन २६४६, बिफे ]
[ वि.सं २२ मंसिर २०७९, बिहीबार ]
[ 08 Dec 2022, Thursday ]

सरकारी निकायमे भासा बेल्साइ

पहुरा | १६ कार्तिक २०७७, आईतवार
सरकारी निकायमे भासा बेल्साइ

पहुराके सक्कु सुभेच्छुक डस्या मजासे मनाइल हुइबि कना अपेक्षा करटि । घरपरियारसे लेके छरछिमेकीन्से रहल मनमुटाव फेन डुर कराइल हुइबि कना हम्रे आशावादी बटि ।

डस्यक उपलक्ष्यमे बहुट जाने सुभकामना साटासाट करल हुइबि । आजकल प्रविधिके जमाना बा । फेसबुक, एसएमएस मार्फत फेन बहुट जाने सुभकामना व्यक्त करल हुइबि । एक फेरा मनन करि टे । का अपनेक पठाइल डस्यक सुभकामना अपने थारु भासम् रहे ? रहे कलेसे अपने अपन भासाप्रटि सचेत बटि कना प्रमानिट हुइठ । अपन भासम् नैरहे कलेसे डेवारी लगायट आब अइना टिउहारके सुभकामना अपने थारु भासम् डेबि कना अर्जि करटि । असिक हमार ठोरचे सचेतनाले हमार भासा बह्रना पौंह्रनामे बल पुगि ।

जब सम थारु लगायट स्थानीय भासाहे सरकार संरक्षण नै करि, टबसम सम्बन्धित भासी किल इहि जोगाइ सेक्ना कर्रा बा । सरकारी निकाय कलक स्कुल, गाउँपालिका, अदालत, प्रहरी अन्य प्रशासन लगायट निकाय हो । खुशीक बाट इहे २०७७ सालके डस्यक् उपलक्ष्यमे ईलाक प्रहरी कार्यालय, हसुलिया, कैलाली थारु भासम् सुभकामना ओ सूचनामूलक सन्देश छपाके प्रचारप्रसार कर्ले बा । इ सकारात्मक कदम हो । ईप्रका हसुलियाके सिख्खा लेके ढिरे ढिरे आउर सरकारी निकाय फेन स्थानीय जनतनके बुझ्ना भासम् सूचनामूलक सन्देश प्रचार प्रसार करिट ।

भासा जोगैना सबसे बलगर अभियान कलक स्कुलिम लर्कापर्कन ओइनेके मातृभासम् पह्रैना अभियान हो । कैलालीक् कुछ स्कुलिम कुछ बरस पहिले इ बारेम प्रयास फेन हुइल रहे । मने निरन्तरता नै पाइल । अब्बे कैलालीक् बहुटसे स्थानीय निकायमे थारु समुदायके जनप्रतिनिधि बटाँ । ओइने अपन डाइ भासा (मातृभासा) जोगैना अभियानमे हालिसे हालि लागिट कना कामना करटि ।

जनाअवजको टिप्पणीहरू