थारु राष्ट्रिय दैनिक
भाषा, संस्कृति ओ समाचारमूलक पत्रिका
[ थारु सम्बत ३० सावन २६४६, सोम्मार ]
[ वि.सं ३० श्रावण २०७९, सोमबार ]
[ 15 Aug 2022, Monday ]

आइसियु ओ भेन्टिलेटर अभावसे उपचारमे समस्या

पहुरा | २४ कार्तिक २०७७, सोमबार
आइसियु ओ भेन्टिलेटर अभावसे उपचारमे समस्या

पहुरा समाचारदाता
धनगढी, २४ कार्तिक ।
सुदूरपश्चिम प्रदेशमे आइसियु ओ भेन्टिलेटर अभाव हुइ लागल बा ।

कोरोना संक्रमितके संख्या दिनहुँ बर्हटी गैलपाछे प्रदेशमे आइसियु ओ भेन्टिलेटर अभावसे उपचार पाइ नाइ सेक्ना अवस्था डेखगैल बा । गम्भीर प्रकृतिके लक्षणसहित संक्रमित बर्हलपाछे अब्बे सुदूरपश्चिममे रहल सीमित आइसियु, भेन्टिलेटर ओ आइसोलेसन बेड भरिभराउ रहल बावै । आइसियु ओ भेन्टिलेटर नाइ पाके कैयौं संक्रमित समस्यामे परल बाटै ।

सुदूरपश्चिमके रेफरल अस्पतालके रूपमे रहल सेती प्रादेशिक अस्पतालके रहल १५ ठो आइसियु बेड भरल बावै । जेकर कारण आइसियु आवश्यक पर्ना अन्य संक्रमित उपचारसे वञ्चित हुइ पुगल बाटै । सेती प्रादेशिक अस्पतालके सूचना अधिकारी दिलीपकुमार श्रेष्ठ जटिल प्रकृृतिके संक्रमितके संख्या बर्हलसंगे आइसियु ओ भेन्टिलेटरके अभाव हुइल बटैलै । ओहकान अनुसार उ अस्पतालमे आइसियु चाहन गम्भीर संक्रमितके संख्या १७ रहल बा । १५ ठो किल आइसियु बेड रहल ओरसे दुईजनहनके अक्सिजनजडित बेडमे राखके उपचार हुइटी रहल बा ।

अस्पतालमे १० ठो बेडमे अक्सिजन जडान कैके उपचारके व्यवस्था करल उहाँ बटैलै । धनगढीके १२ सहित सुदूरपश्चिमके १७ संक्रमितके अवस्था जटिल रहल सेती प्रादेशिक अस्पतालमे उपचार हुइटी रहल बा । श्रेष्ठके अनुसार धनगढी उपमहानगरपालिका–१ के ८२ वर्षिया महिला ओ वडा नम्बर २ के ८४ वर्षिय पुरुषके भेन्टिलेटरमे उपचार हुइटी रहल बा ।

ओस्टके धनगढीबाहर कञ्चनपुरके भीमदत्त, वेदकोट ओ बेलौरी नगरपालिका, डडेल्धुराके अमरगढी नगरपालिका ओ दार्चुलाके महाकाली नगरपालिकाके एकएक सहित पाँचजनहनके फेन आइसियुमे उपचार हुइटी रहल बा ।

‘आइसियु भरल ओरसे आब जटिल संक्रमितहे उपचार करे सेक्ना अवस्था नाइहो,’ उहाँ कहलै, ‘अन्यत्र रेफर कैनाके विकल्प नाइहो ।’ सेती प्रादेशिक अस्पताल कोरोना उपचार विभाग प्रमुुख चिकित्सक शेरबहादुर कमर कोरोना संक्रमणके कारण अवस्था नियन्त्रणबाहर जाइ लागल बटैलै ।

‘कोरोना संक्रमण ओ गम्भीर लक्षण रहल संक्रमितके संख्या बर्हटी जाके अवस्था जटिल बनल बा,’ उहाँ कहलै, ‘अवस्था नियन्त्रणबाहर जाइ लागल ।’ जटिल प्रकृतिके संक्रमितके संख्या ओ मृत्युदर फेन बर्हटी गैल उहाँ बटैलै । ‘जटिल प्रकृतिके संक्रमितके संख्या बर्हलसंगे आइसियु अभाव हुइ लागल,’ उहाँ कहलै, ‘आब अवस्था भयावह हुइना डेखजाइठ् ।’

संक्रमण डरलग्टीक बर्हटी रलेसे फेन सर्वसाधारण उहीसे बचक लाग सामान्य नियम ओ सावधानी अपनैना छोरले बाटै । ढिउर जैसिन मास्क नाइ लगैठै कलेसे भीडभाड फेन ज्यादे बर्हल बा । पसल, टमान सार्वजनिक स्थानमे सामाजिक दूरी कायम राख्न छोरल बा ।

जनाअवजको टिप्पणीहरू