थारु राष्ट्रिय दैनिक
भाषा, संस्कृति ओ समाचारमूलक पत्रिका
[ थारु सम्बत २० फागुन २६४४, बिफे ]
[ वि.सं २० फाल्गुन २०७७, बिहीबार ]
[ 04 Mar 2021, Thursday ]

पुरस्कार ओ निरन्तरताके सवाल

पहुरा | ११ फाल्गुन २०७७, मंगलवार
  • 20
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    20
    Shares
पुरस्कार ओ निरन्तरताके सवाल

पुरस्कार, सम्मानले जे जौन क्षेत्रमे लागल बा, ओइन उ क्षेत्रमे आगे बह्रना हौस्याइठ । कोरोना कहर कम हुइटि रहल बेला मेरमेरिक पुरस्कारसे थारु साहित्यकार, पत्रकारलोग फेन पुरस्कृट हुइटि रहल समाचार अइटि बा ।

इहे क्रममे कैलालीसे संचालित केर्नी न्यूज डटकमके सम्पादक उन्नती चौधरी ‘रोटरी जर्नाे अवार्ड’ पत्रकारिता पुरस्कार वर्ष सन् २०१९–२० से पुरस्कृत हुइल बटी । सात प्रदेशसे सात पत्रकार ओस्हक शिक्षा, स्वास्थ्य, वातावरण ओ महिला बालबालिकालगायत पाँच विधामे निरन्तर कलम चलुइया पाँच पत्रकार पुरस्कृत हुइल बटै । पुरस्कारके राशि जनही रु २५ हजार रहल बा । थारु पत्रकार राष्ट्रिय स्तरके पुरस्कार बहुट कम पाइल अवस्था बा । अइसिनमे उन्नती बधाइके हकदार बटि ।

ओहोर इहे अठवार दाङदेउखरसे निकरटि रलक लावा डग्गर त्रैमासिक अपन बाह्रौ बरसगाँठके अवसरमे चार जनहन पुरस्कार ओ एक जनहन सम्मान कर्ले बा । जनही ५ हजार रकम रहल पुरस्कार ग्रहण कैटि कैलालीके स्रस्टा सिताराम चौधरी, बर्दियाके सोम डमेनडौरा ओ दाङदेउखरके बसन्ती चौधरी पुरस्कृट हुइलमे आगे बह्रना हौसला मिलल् बटैलाँ । सिताराम चौधरी ओ सोम डमेनडौरा बेक्टिगटके साथसाथे क्रमश थारु लेखक संघ नेपाल ओ जंग्रार साहित्यिक बखेरीके संस्थागत अग्वाइ कैके थारु साहित्यहे आगे बह्राइल कहटि पुरस्कृट कैगैल आयोजक पक्ष जनाइल ।

ओसिन टे थारु लेखक संघ नेपाल कैलाली फेन अपन बरसगाँठके अवसरमे हालि स्रस्टन पुरस्कार डेना जनैले बा । ओहोर जंग्रार साहित्यिक बखेरी इहे पुसके पहिल अठवार ठाकुरद्वारामे १०औ बरसगाँठके कार्यक्रम कैके १० जने स्रस्टन सम्मान करल । पुरस्कार साटिक बडल नै हुइक चाहि । कौनो संस्था किहु पुरस्कार डेहल कलेसे अपन संस्थासे सम्बन्धित चटवा डबला रहलमे साटिक बडल करेहस पुरस्कार डेना घिनौना काम हो । पुरस्कार छनौट करुइयन पुरस्कार डेना नियम बनाइक चाहि । पुर्खनहे ओइनके पहिलक कैलक कामके सम्मान कर्ना टे पर्लि बा । मने युवनहे उ गइल बरस अपन क्षेत्रमे का योगदान डेहल ओकर मुल्यांकन कैके पुरस्कार डेहक चाहि । जौन जिल्लामे पुरस्कार स्थापना कैगैल बा, सकेसम प्राथमिकता ओहे जिल्लक् स्रस्टन हुइक चाहि ।

ओइसिन टे थारु साहित्यकार, पत्रकारलोगन हौस्याइक लग बहुट कम पुरस्कार स्थापित बा । चितवनके चिकित्सक डा मनोज महतोके थारु पत्रकार संघ नेपालके नाउँमे स्थापित करल पुरस्कारके एक लाख, एघार हजार, एक सय एघार रुप्या अक्षय कोष पुरान कार्यसमिति मासल समाचार बा । वर्तमान कार्यसमिति उ पुरस्कार रकम जम्मा कराके पुरस्कारहे निरन्तरता डेह्वाइक चाहि । रहल पुरस्कारहे निरन्तरता डेना टे पर्लि बा । डाइबाबनके नाउँमे पुरस्कार स्थापना कैके अपन पुर्खनके सम्मानमे पुन्यके काम करक मन जे फे बनाइक चाहि ।

  • 20
    Shares

जनाअवजको टिप्पणीहरू