थारु राष्ट्रिय दैनिक
भाषा, संस्कृति ओ समाचारमूलक पत्रिका
[ थारु सम्बत १३ कुँवार २६४६, बिफे ]
[ वि.सं १३ आश्विन २०७९, बिहीबार ]
[ 29 Sep 2022, Thursday ]

निर्वाचन पर्यवेक्षणमे नागरिक समाजके भूमिका निश्पक्ष हुईपर्ना जोड

पहुरा | १७ बैशाख २०७९, शनिबार
निर्वाचन पर्यवेक्षणमे नागरिक समाजके भूमिका निश्पक्ष हुईपर्ना जोड

पहुरा समाचारदाता
धनगढी, १७ बैशाख ।
निर्वाचन पर्यवेक्षणमे नागरिक समाजके भूमिका निश्पक्ष हुई पर्नामे जोड डेहल बा ।

यूएसएडके आर्थिक सहयोगमे गैरसरकारी संस्था महासंघ सुदूरपश्चिम प्रदेशके आयोजनामे शनिच्चरके रोज धनगढीमे हुइल निर्वाचन पर्यवेक्षणमे नागरिक समाजके भूमिका विषयक छलफल कार्यक्रमके सहभागीहुक्रे ओसिन बटाइल रहिट ।

कार्यक्रममे गैरसरकारी संस्था महासंघ सुदूरपश्चिम प्रदेश अध्यक्ष देवीप्रसाद खनाल निर्वाचन पर्यवेक्षणमे नागरिक समाजके भूमिका विषयक कार्यपत्र प्रस्तुत करटी निर्वाचन पर्यवेक्षकहुक्रे का कैना, का चिज करे नइपैनाबारे जानकारी डेहल रहिट ।गैरसरकारी संस्था महासंघके केन्द्रीय सचिव भवराज रेग्मी निर्वाचनहे सफल बनैना सक्कु जानेक दायित्व रहल मने निर्वाचन पर्यवेक्षकहुक्रे स्वतन्त्र रुपमे अनुगमन कैना जरुरी रहल बटैलै ।

कार्यक्रममे ओरेक नेपालके केन्द्रीय सदस्य संगिता अधिकारी निर्वाचन लैङिक, अपाङता मैत्री बनैना जरुरी रहल बटैले रहिट । कार्यक्रममे फाया नेपालके शेर बहादुर बस्नेत, धनपति ढुङेगल, संर्वाङिग अपाङता महासंघके नन्दराज भट्ट, इन्सेकके प्रलेख अधिकृत कृष्ण विक, मुक्तकमैया महिला विकास मञ्चके कैशिला चौधरी, एनएनडिएसडब्लुओ के अध्यक्ष चक्र विक, पत्रकार प्रकाश शाह लगायत आ आपन सुझाव डेहल रहिट ।

कार्यक्रमके संचालन महासंघके सचिव लोकमान धामी ओ स्वागत मन्तव्य कोषाध्यक्ष दुर्गा नेपाली करले रहिट ।

जनाअवजको टिप्पणीहरू