थारु राष्ट्रिय दैनिक
भाषा, संस्कृति ओ समाचारमूलक पत्रिका
[ थारु सम्बत १७ अगहन २६४६, शनिच्चर ]
[ वि.सं १७ मंसिर २०७९, शनिबार ]
[ 03 Dec 2022, Saturday ]

संघीय ओ प्रदेश सरकार बाधकः मेयर वड

पहुरा समाचारदाता | १९ फाल्गुन २०७६, सोमबार
संघीय ओ प्रदेश सरकार बाधकः मेयर वड

धनगढी उपमहानगरपालिकासे विकास सम्मेलन

पहुरा समाचारदाता
धनगढी, १८ फागुन । धनगढी उपमहानगरपालिकाके मेयर नृपबहादुर वड धनगढी उपमहानगरपालिकाके विकासमे संघीय ओ प्रदेश सरकार बाधक रहल टिप्पणी कर्ले बाटै ।
उपमहानगरपालिकासे अट्वारके रोज आयोजित विकास सम्मेलनमे बोल्टी उहाँ ओइसिन टिप्पणी करल हुइट । उहाँ कहलै– ‘तीन तहके सरकारबीच अभिनसम विकासके टार मिलल नैहो । प्रदेश सरकार यहाँ बैठल कारण १ इन्च फेन धनगढी उपमहानगरपालिकाके जमिन नैहो । रहल जमिन कब्जा करसेकल ।’
मेयर वड जमिन नैरहल कारण सार्वजनिक शौचालय निर्माणके लाग जमिन अभाव हुइल बटैले बाटै । चुनाव जिटके आइलपाछे अप्नेहुक्रे ५ ठाउँमे सार्वजनिक शौचालय निर्माण करटी रहल बटैटी उहाँ जमिन अभावके कारण समयमे निर्माण कम्पनीहे ठाउँ डेहे नैसेकके क्षतिपूर्ति डेके हैरान हुइल बटाइल हुइट ।
उहाँ आघे थप्लै– ‘संघीय सरकार ओ प्रदेश सरकारके कारण पाछे परेक पर्ना अवस्था बा । यहिहे पहिल बुँदाके रुपमे राख्ले बाटी ।’ मेयर वड टेलिफोनके तार, खानेपानीके पाइपसे फेन धनगढीके विकासमे बाधा पुगल बटाइल हुइट ।
यहेबीच उहाँ नगरके विकासके गतिविधि तीब्र रुपमे बह्राइल दाबी कर्ले बाटै । उहाँ विकास सम्मेलन कर्नाके एकठो उद्देश्य नगर क्षेत्रके नागरिकहुुकनके क्रेय शक्ति बह्रैना रहल बटैलै । नागरिकहुक्रे खरिद करे सेक्ठै कि नाई सेक्ठै कना प्रमुख बात रहल बटैटी उहाँ महिलाहुकनके आर्थिक अवस्था उकास्न फेन प्राथमिकताके विषय रहल उल्लेख कर्लै ।
दक्षिण कोरिया भ्रमणके अनुभव सुनैटी उहाँ कहलै– ‘जबसम महिलाहुकनके आर्थिक अवस्था बल्गर बनाई नैसेकजाई, तबसम कुछ नाई हुई । सुखी नेपाली, समृद्ध नेपाली ब्यर्थ हो ।’
उहाँ धनगढी उपमहागरपालिकाहे ६ महिनाभिट्रे सिटी हल हस्तान्तरण हुइटी रहल, थारु संग्राहलय निर्माण होसेकल ओ रानाथारु संग्राहलय निर्माधिन अवस्थामे रहल बटैलै । साथे ठाउँ–ठाउँमे पार्क निर्माण, फूलवारीमे कोल्ड स्टोर, जडिबुटी प्रशोधन केन्द्र पीपी मोडलमे सञ्चालनके तयारीमे रहल फेन उल्लेख कर्लै ।
नागरिकहुकनके आर्थिक अवस्था उकासेक् लाग मच्छी उत्पादन, बंगुर, छेग्री, गैया पालनमे जोड डेहल उहाँके कहाइ रहे । ओस्टके, पर्यटन प्रवद्र्धनके लाग जखोर ताल, बेहडा बाबा, शिवपुरी धाममे संरचना निर्माण करटी रहल फेन बटैलै ।
सम्मेलनमे सुदूरपश्चिम विश्व विद्यालयके पूर्व रजिस्टार डा. हेमराज पन्त विकास सम्मेलन एक विषयमे केन्द्रीत नैरहल बटैलै । साथे उहाँ हरियाली धनगढी कुरुप हुइटी गैल कहटी चिन्ता व्यक्त कर्लै ।
हरियाली रहल धनगढी कुरुप हुइटी गैल कहटी फोहोर व्यवस्थापनमे उपमहानगरपालिका योजना निर्माण करेक पर्ना डा. पन्तके कहाइ रहे । धनगढी उपमहानगरपालिकासे छोटछोट योजनासे फेन दिगो विकासहे प्राथामिकता डेहक पर्ना सुझाव डेलै ।
६ ठो कार्यपत्र उप्पर विज्ञबीच समूह छलफल करल सम्मेलनके उद्घाटन राष्ट्रिय योजना आयोगके सदस्य सुशील भट्ट करल रहिट । उहाँ उद्घाटन सत्रसे सम्बोधन करटी राष्ट्रके विकासके लाग योजनाबद्ध ढंगसे आघे बह्रेक पर्ना बटैलै ।
उहाँ कहलै, ‘हम्रे अब्बा स्रोतके पहिचान बिना विकासके योजना कार्यान्वयन करटी रहल बाटी । यहिसे मजा परिणाम डेले नाई हो ।’ उहाँ कार्यान्वयन योग्य योजना तयार नैहुइटसम कार्यान्वयन चरणमे नैलागेक पर्ना बटैलै ।
सदस्य सुशिल भट्ट राष्ट्र विकासके लाग सक्कुहनमे छटपटी ओ हुटहुटी हुइना आवश्यक रहल बटैलै । उहाँ आयोजना चक्र व्यवस्थापनके शिद्धान्तके आधारमे राष्ट्रिय योजना आयोग आघे बह्रल बटैलै ।
सम्मेलनके उद्देश्यबारे जानकारी करैटी धनगढी उपमहानगरपालिकाके उपप्रमुख सुशीला मिश्र भट्ट धनगढीके विकासके लाग दिशानिर्देश करेक लाग सम्मेलनके आयोजना करल बटैली ।
सम्मेलनमे उपमहानगरपालिकासे पहिचान करल सामाजिक, आर्थिक, भौतिक विकास ओ वातावरण संरक्षणके आधारमे कुछ मुख्य प्रोजेक्ट बैंक प्रस्तुत करगिल रहे ।

जनाअवजको टिप्पणीहरू