थारु राष्ट्रिय दैनिक
भाषा, संस्कृति ओ समाचारमूलक पत्रिका
[ थारु सम्बत २८ सावन २६४६, शनिच्चर ]
[ वि.सं २८ श्रावण २०७९, शनिबार ]
[ 13 Aug 2022, Saturday ]

अतिक्रमित नेपाली भूमि फिर्ताके लाग कुटनीतिक पहल करे परल : चुनकुमारी चौधरी

पहुरा समाचारदाता | ३१ बैशाख २०७७, बुधबार
अतिक्रमित नेपाली भूमि फिर्ताके लाग कुटनीतिक पहल करे परल : चुनकुमारी चौधरी

कैलाली, ३१ बैशाख । दार्चुला जिल्लामे पर्ना नेपाली भूमिहे अतिक्रमण कैके गुञ्जीसे कालापानी लिपुलेक, नाभीढाङ हुइटी चीनके तिब्बतमे रहल धार्मिक स्थल मानसरोबर जैना सडकमार्ग भारतसे निर्माण करल प्रति सुदूरपश्चिम प्रदेश सभा सदस्य चुनकुमारी चौधरी गम्भीर ध्यानाकर्षण हुइल बटैले बाटी ।

बुधके पत्रकार राम दहितसे फोनमे संवाद करटी प्रदेश सभा सदस्य चौधरी भारतसे कैना यी मेरके कार्य निन्दनीय रहल बटैटी अतिक्रमित भूमि तत्काल फिर्ता करे पर्ना बटाइल हुइटी ।

अतिक्रमित नेपाली भूमिबारे देश ओ जनता प्रति चिन्ता व्यक्त करटी उहाँ आघे कहली–‘विश्व कोरोनासे भयभित एवं आक्रान्त रहल ओ समग्र मुलूक लकडाउनमे रहल अवस्थामे भारतसे नेपाली भूमिहे अन्तर्राष्ट्रिय सीमा सन्धी, सम्झौताके मूल्य मान्यता विपरित अतिक्रमण कैके एकतर्फी रुपमे सड्क निर्माण कैना कार्य नेपालके राष्ट्रिय स्वाधिनता, भौगोलिक अखण्डता, स्वतन्त्रता एवं सार्वभौमिकता उपर ठाडे हेपाहा हस्तक्षेप हो । नेपालके सहमति बिना नेपाली भूभाग प्रयोग कैके सडक निर्माण कैना भारत ओ चीन सहमत हुइना अत्यन्ते निन्दनीय कार्य हो । यी मेरके कार्य रोक्न सरकार कुटनीतिक पहल करे परल ।’

ओस्टके प्रदेश सभा सदस्य चौधरी नेपाली भूमि तथा सीमा सुरक्षाके लाग उक्त क्षेत्रमे मजबुत भौतिक संरचना बनाके सुरक्षाकर्मीहुक्रनके ढिउर उपस्थिति कराइ पर्ना जोड डेली । बराम्बार हुइना यी मेरके भारतीय हेपहा प्रवृति रोकक् लाग फेन उहाँ भारतीय सीमा क्षेत्रमे तारबार तथा सुरक्षाकर्मीके लाग संघीय सरकार आवश्यक बजेट विनियोजन करे पर्ना फेन उहाँ जोड डेली ।

यकर साथे अतिक्रमित नेपाली भूमि फिर्ताके लाग सरकार भिडियो कन्फ्रेनस मार्फत हुइलेसे फेन वार्ता करे पर्र्ना प्रदेश सभा सदस्य चौधरी सरकार अग्रसर हुइ पर्ना सुझाइल रही ।

जनाअवजको टिप्पणीहरू