थारु राष्ट्रिय दैनिक
भाषा, संस्कृति ओ समाचारमूलक पत्रिका
[ थारु सम्बत ३० सावन २६४६, सोम्मार ]
[ वि.सं ३० श्रावण २०७९, सोमबार ]
[ 15 Aug 2022, Monday ]

डसियाक् मोहसे ढिउर प्यारा भोक

पहुरा | १९ आश्विन २०७७, सोमबार
डसियाक् मोहसे ढिउर प्यारा भोक

पहुरा समाचारदाता
धनगढी, १९ कुवाँर ।
डसिया सुरु हुइना जम्मा १२ दिन बाँकी बा । विगतके बरस यि समय डसियाक् माहोल बहुट चौकस रहे । सीमा नाका होके लाहुरेहुक्रे गुन्टि गुन्टा बोकके लम्मी लागके आइठ । मने समय ओ परिस्थिति ठीक उल्टा होगिल बा । भारतसे नेपाल अइना मनैनसे ढिउर नेपालसे भारत जाउइयान्के बा ।

कुवाँर १७ गते कञ्चनपुर जिल्लाके बेलडाँडी गाउँपालिका १ के प्रयागराज उपाध्याय लिल्हारभर लाल टीका लगैले गौरीफन्टा सीमा नाका हुइटी भारत गैलै । कोरोना महामारीके कारण जारी लकडाउनपाछे गैल चैतके ८ गते नेपाल आइल उहाँ डसिया लच्क्याइल बेला भारतके दिल्ली काम करे गैलै । उहाँ घरेक् खर्च चलैना कर्रा हुइलपाछे भारत जाइक पर्ना बाध्यता हुइल सुनैलै ।

कञ्चनपुर जिल्लाके बेलडाँडीके गोरखराम जोशी फेन गौरीफन्टा नाका होके भारत गैलै । लकडाउनपाछे नेपालमे जिविकोपार्जनके लाग सुरु करल व्यवसाय नैफस्टाइलपाछे भारतके जम्मु कस्मिर जाइ लागल बटैलै ।

उहाँ आघे कहलै, ‘टिना खेती सुरु कर्नु पुरा डहागिल । बोइलर मुर्गी पालन कर्नु मोल घटके प्रति किलो १५० रुप्या होगिल । व्यवसाय फेन मनासे नैफापलओरसे पहिलेही काम करटी आइल भारतके जम्मु जाइटु । आब ओहै डसिया मनाइक परी ।’

आजकाल उपाध्याय ओ जोशी जस्टे दैनिक २ हजारके अनुपातमे नेपालीहुक्रे कञ्चनपुरके गौरीफन्टा ओ गड्डाचौकी नाका होके भारत जैटी रहल बाटै । उहाँहुक्रे नेपालमे रोजगारी नैहुइलओरसे भारत जाई लागल बटैले बाटै ।

नेपाल सरकार भर भारतीय नागरिकहुकन याहोर अइनामे रोक लगैले बा । भारत भर आधार कार्ड ओ पास रहलेसे नेपालीहुकन प्रवेश डेटी आइल बा । आधार कार्ड रहल मनै अप्नहि ओ नागरिकताके आधारमे भारतीय मालिकहुक्रे पास बनाके सीमामे पठाडेटी आइलपाछे नेपालीहुक्रे धमाधम भारत जाइ पैटी बाटै ।

लम्मा लकडाउनपाछे २ छाक जुुटैना फेन साँसट हुइलपाछे उहाँहुक्रे छोट छोट दुध पिना बच्चान्हे ठेक्नेमे, बोकामे बाँधके भारतओहोर जान बाध्य हुइल बटैले बाटै ।

सुदूरपश्चिम प्रदेशके साढे २५ लाख जनसंख्याके ३० प्रतिशत जनसंख्या कामके लाग भारत अइना जैना करटी आइल बाटै ।

लकडाउन हुइलपाछे भारतसे सुदूरपश्चिमके टमान जिल्ला तथा कर्णाली प्रदेश आइल नेपाली आजकाल कञ्चनपुरके त्रिनगर (गौरीफन्टा) नाका ओ गड्डा चौकी नाका होके फेरसे जाइ लागल हुइट ।

जिल्ला प्रहरी कार्यालय कञ्चनपुरके अनुसार खासकैके लम्मा समय भारतके टमान ठाउँमे बैठ्टी आइल ओ भारतमे टमान पहिचानपत्र लेसेकल नेपालीहुक्रे भारत जैटी बाटै ।

कुवाँर महिनाक् १६ दिनमे किल गौरीफन्टा नाका होके १६ हजार ४९६ नेपाली भारत गैल बाटै ।

कुवाँर १ गते ३१८ जाने नेपाली यी नाका होके भारत गैल रहिट कलेसे ओकरपाछे दिनहुँ उ संख्या तेब्बर बह्रल बा । कुुवाँर .१ गतेसे १६ गतेके अवधीमे २ हजार २४३ महिला, १ हजार ८९१ बालबालिका ओ १२ हजार ३६२ जाने पुरुष भारत गैल तथ्यांक बा ।

उ अवधीमे गड्डाचौकी नाका हुइटी २ हजार ५ जाने भारत गैल बाटै । यि नाकासे दैनिक १ सय ५० से ढिउर नेपाली भारत जैटी रहल बाटै ।

जनाअवजको टिप्पणीहरू