थारु राष्ट्रिय दैनिक
भाषा, संस्कृति ओ समाचारमूलक पत्रिका
[ थारु सम्बत ०५ असार २६४८, मंगर ]
[ वि.सं ५ असार २०८१, मंगलवार ]
[ 18 Jun 2024, Tuesday ]

झोलुङे बचैना जैविक तटबन्ध

पहुरा | २७ जेष्ठ २०८१, आईतवार
झोलुङे बचैना जैविक तटबन्ध

पुल नइहो बर्खामे आवातजावतमे समस्या

पहुरा समाचारदाता
हसुलिया, २७ जेठ ।
कैलाली जिल्लाके कैलारी गाउँपालिका वडा नम्बर ३ मोहनपुरबासीहुक्रे झोलुङे पुल बचाइक लाग जैविक तटबन्ध निर्माण करले बटै ।

मोहना लडियामे निर्माण हुइटी रहल झोलुङे पुल बचाइक लाग कैलारी गाउँपालिका वडा नम्बर ३ के कार्यालयके ३ लाख ३५ हजार रुप्या आर्थिक सहयोगमे जैविक तटबन्ध कैगिल वडा सदस्य सैतुराम चौधरी बटैलै ।

मोहनपुरबासीसे १ सय ५२ मिटर लौवा जैविक तटबन्ध ओ ५० मिटर पुरान जैविक तटबन्धहे मर्मत करल वडा सदस्य बटैलै । उ जैविक तटबन्ध बनाइक लाग मोहनपुरबासीसे ९० प्रतिशत जनश्रमदानफे करल ओ जैविक तटबन्धमे बालु भरके दारेक लाग जल उत्पन्न प्रकोप धनगढीसे करिब ५ हजार प्लाटिक कट्टा (गन्जीया) उपलब्ध कराइलफे वडा नम्बर ३ वडा सदस्य सैतुराम चौधरी जनैलै ।

उहाँ कहलै, ‘गैल बरसफे झोलुङ ओ विद्युतके पोल बचाइक लाग मोहनपुरबासीसे जैविक तटन्ध कैगिल रहे । जिहीसे झोलुङे पुलके खम्बा ओ विद्यु्तके पोल बचल । उ जैविक तटबन्धहे गैल बरसके बाढसे ठोर ठोर क्षति पुगाइल कारण यी बरस मर्मत कैगिल बा ।’

कक्षा १० मे अध्ययनरत मोहनपुर निवासी महिमा चौधरी बर्खायाममे प्राय विद्यालय छोरना बाध्य हुइठी । उहाँ कहली, ‘मोर गाउँमे प्राथमिक विद्यालय केल बा । कक्षा ५ पास हुइल सक्कु विद्यार्थी वडा नम्बर ४ स्थित कालिमाई आधारभूत विद्यालय भिटरिया, जनकल्याण मावि के ‘गाउँ’मे पह्रे अइठी । बर्खायाममे मोहना लडियामे जोरसे बाढ आइलपाछे विद्यालय छोरना बाध्य हुइठी ।’

मोहना लडियामे बर्खायाममे भारी बाढ आइलपाछे लाउ नइचलठ,’ विद्यार्थी महिमा कहठी, ‘मोर जस्टे मोहनपुरसे मोहना लडिया नाघके दुसर गाउँमे पह्रे जैना करिब २०/२५ जानेक पह्राई छुटठ । ओकरसंगे कौनो बेला परिक्षा समेट छोरना बाध्य हुइठी ।’

मोहनपुर निवासी कक्षा १० मे पह्रना आशिका चौधरीफे बाढ आइलपाछे विद्यालय ढिला हुइना, हिला किचामे विद्यालय जाई पर्ना बाध्यता रहल बटैठी । उहाँ कहली, ‘मोहनपुरसे नेंगके जनकल्याण मावि के गाउँ पुग्ना एक घण्टासे ढेर लागठ । सावन महिनामे विद्यालय वा परिक्षा कबु छुटठ । कबु् ढिला हुइठ । जेकर नाटपाट बटै कलेसे बर्खामे डेरा लेके उहे बैठै । जेकर कोई नइहो कलेसे समस्यामे परठै ।’

आशिका कहठी,‘ विद्यार्थी केल नाही गर्भवती महिला, सुत्केरी महिला ओ खोप लगैना बालबच्चाफे बर्खायाममे समस्यामे परठै । मोहनपुरमे खोप केन्द्र नइहो के गाउँ स्वास्थ्य केन्द्रमे सेवा लेहे अइठै । इमरजेन्सी विमार परल बेला झन समस्या झेले परल बा ।’

कैलारी गाउँपालिका वडा नम्बर ३ शिवरत्नपुर, वडा नम्बर ४ मोहनपुर गाउँ मोहना लडिया परी परठ । यी लडियामे झोलुङे पुल निर्माण नइहुके यहाँके स्थानीयहुक्रे बाह्रोमास बर्खाके बेला लाउ ओ औरबेला मोटरसाइकल, साइकल ओ पैदलयात्रा करे सेक्ना अस्थायी काठे पुलके साहारा लेना बाध्य बटै ।

जनाअवजको टिप्पणीहरू