थारु राष्ट्रिय दैनिक
भाषा, संस्कृति ओ समाचारमूलक पत्रिका
[ थारु सम्बत १३ अगहन २६४६, मंगर ]
[ वि.सं १३ मंसिर २०७९, मंगलवार ]
[ 29 Nov 2022, Tuesday ]

थरुहट मोर्चा आन्दोलनहे सशक्त बनैटी

पहुरा समाचारदाता | २० फाल्गुन २०७६, मंगलवार
थरुहट मोर्चा आन्दोलनहे सशक्त बनैटी

आमहड्तालसे जनजीवन ठप्प, संयोजकसहित ३ जहन गिरफ्तारीपाछे रिहा

पहुरा समाचारदाता
धनगढी, २० फागुन । टीकापुर घटनापाछे मुर्झुराइल थरुहट आन्दोलन फेरसे फागुन १ गतेसे सशक्त बन्टी गैल बा ।
सरकारसंग १४ बुँदे माग राख्टी चरणबद्ध आन्दोलनरत मोर्चाके आन्दोलन सशक्त ओ आक्रमक बन्टी गैल हो । सरकारहे दबाब डेना उद्देश्यसे फागुन २० ओ २१ गते आह्वान करल आमहड्तालसे तराईके अधिकांश जिल्लाके जनजीवन प्रभावित बनल बा ।
यहेबीच प्रदर्शन करटी रहल ओ बजार बन्द करैटी रहल अवस्थामे मोर्चाके ३ नेता तथा कार्यकर्ताहुकन गिरफ्तार कर्ले बा ।
जिल्ला प्रहरी कार्यालय कैलालीके प्रमुख तथा प्रहरी उपरिक्षक सुदिप गिरी जबरजस्ती बजार बन्द करैटी नेंग्टी रहल क्रममे थरुहट महिला मोर्चाके केन्द्रीय संयोजक प्रेमा थारु, कैलाली बहुमुखी क्याम्पसमे अध्ययनरत एमन चौधरीहे नियन्त्रणमे लेहल जानकारी डेलै । अइना दिनमे ओइसिन गतिविधि नैकर्ना सर्तमे गिरफ्तारीमे परलहुकन छोरल प्रहरी उपरिक्षक गिरी बटैलै ।
ओस्टके, प्रहरी सोम्मारके रोज बेरीजुन कञ्चनपुरके सिसैयामे प्रदर्शनके क्रममे सञ्जय रानाहे गिरफ्तार करल जनागिल बा । रानाहे प्रहरीसे निर्घात कुटपिट करल मोर्चाके दाबी बा ।बन्दसे कैलाली, कञ्चनपुर, बर्दिया, बाँके, दाङसहितके तराईके जनजीवन ठप्प हुइल हो । बन्दकारण सुदूरपश्चिम प्रदेशके राजधानी फेन प्रभावित हुइल बा । बन्दके कारण धनगढीसे चल्न लम्मा तथा छोट दुरीके सवारी साधन विहन्नीसे ठप्प हुइल सुदूरपश्चिम प्रदेश ट्राफिक प्रहरी कार्यालय अत्तरियाके प्रहरी उपरिक्षक लोकेन्द्र श्रेष्ठ जानकारी डेलै । मने प्रहरीसे स्कटिङ करके गाडी सञ्चालनमे नानल उहाँ जानकारी डेलै ।
बन्दसे बजार, शिक्षण संस्था फेन पुरा बन्द रहल बा । यातायातके साधन नैचललक कारण भारत लगायत टमान ठाउँसे आइल यात्रु धनगढीमे अलपत्र परल बाटै ।
आमहड्ताल अवज्ञा करके सवारी साधन चलैलेसे उत्पन्न हुइना परिस्थितिके सक्कु जिम्मेवारी नेपाल सरकार ओ स्वयम् रहना फेन मोर्चासे चेतावनी डेगिल बा ।
आमहड्तालके समयावधिमे अतिआवश्यक सवारी साधन, दमकल, एम्बुलेन्स, शव बाहन, सुरक्षा निकाय, दुध बोक्न साधन, औषधीजन्य सवारी, रेडक्रस, मानव अधिकारकर्मी, पर्यटक, पत्रकार, कुटनीतिक नियोगक सवारी साधन भर निर्वाध रुपमे सञ्चालन हुई डेना मोर्चाके कैलाली संयोजक माधव थारु जानकारी डेलै ।
रेशम चौधरीसहित ११ जाने जेलबन्दीहुकनके रिहाइ करेक पर्र्ना, टीकापुर घटनाबारे सत्यतथ्य छानबिन करेक लाग पूर्व न्यायाधीश गिरिशचन्द्र लाल नेतृत्वके न्यायिक समिति, गृह मन्त्रालयसे गठित अनुसन्धान विभागके पूर्व प्रमुख देवीराम शर्माके संयोजकत्वमे गठित छानबिन समितिके प्रतिवेदन ओ सर्वदलीय संसदीय समितिके प्रतिवेदन सार्वजनिक करेक पर्र्ना लगायत माग राख्टी मोर्चा फागुन १ से आन्दोलनमे उत्रल बा ।

जनाअवजको टिप्पणीहरू